आटा चक्की लगाकर करे अच्छी कमाई | atta chakki business flour mill

 आटा चक्की लगाकर करे अच्छी कमाई | atta chakki business flour mill

आटा चक्की का व्यवसाय शुरू करने में कितनी लागत आती है,यह कितना लाभकारी व्यवसाय है?

सवाल अच्छा और जायज है --दिल से उत्तर दूंगा |
मुझे यह सवाल बहुत पसंद है।
क्यूंकि आटा एक प्राइम प्रोडक्ट हैं | किसी और चीज के बिना काम चल 
सकता लेकिन इसके बिना नही | व्यावसायिक आटा चक्की लगाकर अच्छी इनकम ली जा सकती है। खाने की जरुरत हर किसी को होती है | सभी आटे की रोटी खाते है ऐसे में आटा हर किसी की जरुरत है| इसलिए यह एक अच्छा व्यवसाय है | जिसको कम पूँजी लगाकर शुरू किया जा सकता है |कहावत भी है -अब पता चलेगा आटे दाल का भाव |
कोई घर ऐसा नहीं है जहाँ  इसकी जरूरत न हो |
चाहे राजा हो या रंक ये सबकी जरूरत है |
टाटा हो या बाटा- सबको चाहिए आटा (ये क्वोरा भी कवि बना के छोड़ेगा )
अब बात करते हैं बिज़नेस की तो दोस्तों ये बिज़नेस फेल नहीं है इसका 
मालिक फेल हो जाता है वो भी अपनी गलतियों के कारण |
इस बिज़नेस को करने का पहला तरीका है एक जगह चक्की लगाकर |
क्या क्या करना है |
कमर्शियल चक्की लेनी है | कीमत 25000 से 30000 रूपये तक आ जाती है |
आटा चक्की मोटर ,3 लाख में बिजनेस


8-10 हॉर्स पावर की आटा चक्की मोटर 16 से 20 हजार की 
पूरा खर्चा बिजली कनेक्शन समेत 50,000 हजार के आस-पास हो जाता है |
यह व्यवसाय भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय के 
अंतर्गत आता है | इस पर लोन की सुविधा भी है |
इस बिज़नेस को करने का पहला तरीका है एक जगह चक्की लगाकर |
आसपास के लोग अपनी गेहूं का आटा पिसवाते भी हैं और आप से पिसा 
पिसाया आटा खरीदते भी हैं |
यहाँ केवल दाल रोटी चलेगी कमाई की ज्यादा गुंजायश नहीं है |
यह मेरा जवाब भी नहीं है |
दोस्तो इसी बिज़नेस में शानदार मुनाफा कमाना है तो करना क्या चाहिए ?
प्रोडक्ट नंबर -1
काम  थोड़ा जमने के महीना दो महीना के बाद के बाद आपको अपना खुद के ब्रांड नाम से आटा लांच करना है - आप कोई बढ़िया सा नाम रखो उसके 
निचे टैग लाइन लिखो high fiber Containing flour
निचे लिखो---
इस आटे को छानने की जरूरत नहीं है | क्यूंकि इसे धो के पिसा गया है | 
और एक शानदार पैकिंग करनी है | जो दिखता है वो बिकता है
आटा चक्की मोटर ,3 लाख में बिजनेस

ये हो गया बड़ी बड़ी कोठियों में सप्लाई करने वाला प्रोडक्ट |
वहां पैसों की कमी नहीं है और वो काफी पढ़े लिखे लोग होते हैं | काफी हेल्थ 
कॉन्शियस लोग होते हैं माल बढ़िया हो ता क़ीमत नहीं देखते |
और ये कोई चीटिंग नहीं है | जब लोग आटा छानते हैं तो ही फाइबर अलग 
होता है | गेहूं के छिलके में फाइबर होता है वो छान कर अलग कर देते है |
अब मार्केटिंग
बढ़िया रंगीन ब्रौशर छपवाओ फोर कलर में कोई भी प्रिंटिंग प्रेस वाला छाप
 देगा | पॉश कॉलोनी , बड़े बड़े सेक्टर में अख़बार वालों से बँटवाओ | 100 - 
200 रुपये में बाँट देगा |
दोस्तों अख़बार के अंदर बहुत सारे ब्रौशर निकलते हैं कभी कोई स्कूल का 
,कभी कोचिंग सेंटर का ,कभी अस्पताल का | उसी  तरह आपका ब्रौशर भी 
निकलेगा | अख़बार पढ़ने वाला क्या करता है ब्रौशर को एक नजर डाल कर 
एक तरफ रख देता है |
क्यों ? क्यूंकि
1-जो हैडलाइन है वो उसके कम की नहीं है |
2- यदि काम की तो वो हेड लाइन उसे इम्प्रेस नहीं कर पायी |
3- ब्रौशर उसे अट्रैक्टिव नहीं लगा |
4- या फिर हेड लाइन पर लिखा है -ख़ुशख़बरी ख़ुशख़बरी ख़ुशख़बरी -जय 
बाला जी आटा चक्की यानि टोटल बकवास |
इन सबका मतलब है मार्केटिंग का खर्चा बेकार |
होना क्या चाहिए --
1- headline-आपके परिवार और आपकी हेल्थ हमारे लिए सर्वोपरि है |
2-उसके निचे टैग लाइन लिखो high fiber Containing फ्लौर ,
3-उसके निचे शानदार फूली हुई रोटियों की फोटो |
उसके निचे फाइबर के गुण |
1- फाइबर युक्त पौस्टिक आटा
2-पेट की बिमारियों से छुटकारा
3-कब्ज से छुटकारा
4-फाइबर से आंतों की सफाई होती है |
6-उसके निचे लिखो इसे ऑनलाइन भी खरीदा जा सकता है amazon और 
flipcart पर इसका मार्केटिंग में बहुत असर पड़ता है | लोग satisfy हो जाते हैं (amazon और flipcart पर अकाउंट बनाया जा सकता है )
ब्रोशर का कलर फीका हरा ,येल्लो बैकग्राउंड (येलो कलर दिमाग को काफी
 पसंद है )
निचे अपना एड्रेस
customer care number-phone number
email address— 
कथा का सार ये है |
वो ब्रोशर नहीं वो mind blowing चीज होना चाहिए |
प्रोडक्ट नंबर -2
मिक्स अट्टा --इसमें क्या करना है |
एक क्विंटल आटे का मिक्सचर
1-गेहूं --75 kg
2-चना --15 kg
3-सोयाबीन --10 kg
ये आइटम भी चलनेवाला है | सेहत के प्रति जागरूक लोग इसे खरीदना बहुत पसंद करेंगे |
इसकी पैकिंग का आईडिया
इसकी पैकिंग की बैकग्राउंड में कलर तिरंगा टाइप ,लाइट कलर में होनी चाहिए |
कोई अच्छा सा नाम रखो जैसे ---सम्पूर्ण शक्ति आटा
निचे टैग लाइन लिखो -- आपके परिवार और आपकी सेहत का सम्पूर्ण 
ख्याल या कोई ऐसा ही बढ़िया सी नजरों में चढ़ने वाली टैग लाइन हो |
प्रोडक्ट नंबर -3
बाजरा का आटा -
इसकी जितनी डिमांड हो उतनी ही पिसे करें क्यूंकि ये 15--20 दिन बाद खट्टा
 हो जाता है / स्वाद बदल जाता है |
प्रोडक्ट नंबर -4
चने का बेसन --ये भी चक्की के बिज़नेस से जुड़ा प्रोडक्ट है |
जरूरी बात
दोस्तों गेंहूं , चना ,सोयाबीन सीजन के समय सीधा किसानो से खरीदो 
सस्ता मिलेगा | इक्क्ठा खरीदो
एक फर्म रजिस्टर करवाओ बैंक में करंट अकाउंट खुलवाओ | बिज़नेस की
 बैंक लिमिट बनवाओ ताकि समय पर भुगतान कर सको |किसानो से माल 
मिलने का समय सिमित होता है | गांव में छोटे व्यापारी होते हैं जो सारा 
साल माल सप्लाई कर सकते है उनसे संपर्क करो |
भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत फ़ूड 
कारपोरेशन आपको गेहूं खरीदने की लिमिट बनाता है वहां से आप अपने 
कोटे के हिसाब से जायज रेट पैर अनाज खरीद सकते हो |
दोस्तों मार्केटिंग आक्रामक और धुआंदार होनी चाहिए | हजार ब्रोशर छपवाए
 है तो कम से कम एक दिन छोड़कर 100 ब्रोशर बंटवाने हैं | कहीं से फ़ोन 
आता है तो तुरंत जवाब दें |
कोई पूछता है आपका ब्रोशर देखा था क्या आइटम है?
सलीके से बताओ जैसे एयर टेल वाली बताती है |
जी , टाइम बताओ आपके घर आकर पूरी डिटेल बताता हूँ | और कृपया दो 
चार अडोसी पडोसी बुला लेना वो और भी अच्छा रहेगा |
time is money ,समय पर पहुँचाना है | बढ़िया प्रेजन्टेशन देनी |
जैसे आप किसी बड़ी कंपनी से आये हो |
और भाई मेहनत करोगे तो बिज़नेस बड़ा भी होगा |
आज ताराचंद आटा चक्की है | कल ताराचंद फ्लौर मिल होगी |
खुद पर विश्वास रखो |
हाँ समय के बिकुल पाबंध होना बहुत जरूरी है ये मार्केटिंग का पक्का उसूल है |
टाइम वेस्ट करोगे टाइम आपको वेस्ट कर देगा | टाइम किसी का सगा नहीं होता |
1500/- रूपए पर होम डिलीवरी फ्री करो ये कम ज्यादा हो सकता है |
आटा चक्की का दूसरा तरीका है --
ट्रेक्टर माउंटेड आटा चक्की
आटा चक्की मोटर ,3 लाख में बिजनेस



ये है घर घर ,गली गली और कॉलोनियों में इधर उधर भटकते हुए आटा पीसना |
सेकंड हैंड ट्रेक्टर --140000 /-
आटा चक्की ---70000 से 80000 /-
दाल रोटी खरी है यदि खुद चलाओगे तो | और सारा दिन लाउडस्पीकर में 
बोलते रहना है
आ गई ,आ गई , आ गई ——————- आटा चक्की आ गई |
यदि आप ट्रेक्टर चक्की चलाने के लिए कोई ड्राइवर को सौंप दोगे वो शाम 
को आएगा और पूछेगा  सेठ(भाई इज्जत से ही बोलेगा क्यूंकि वो नहीं आप 
उसके कमाऊ पूत हैं ) ट्रैक्टर कहाँ खड़ा करूँ |
और आप जगह बताने की बजाये कमाई पूछोगे -कितना कमाया ?
वो कहेगा - जी कुछ नहीं मेरे से पहले 3-4 आटा चक्की मोहल्ले में घूम रही थी |
आप - डीजल का टैंक तो खाली है ?
वो -सेठ जी सारा दिन इधर उधर घूमता रहा ट्रेक्टर चालू था | क्या करूँ ?
उसके जाने के बाद --आप और आपकी आटा चक्की |
आप उसे आंख फाड् कर घुर रहे हो और वो आपको घूर रही है |
आप मन ही मन पूछ रहे हो - क्या हुआ
वो बोल नहीं सकती लेकिन उसके मन की बात मैं  बता देता हूँ क्या कह रही होगी |
पापा जी में आ गई और सारा डीजल खा गई
इस बिज़नेस का तरीका नंबर -1 बिज़नेस बढ़ाना आपके हाथ में है |
या तरीका नंबर -2 बिज़नेस बढ़ाना परिस्स्थिति के हाथ में है |
note -दोस्तों ट्रेक्टर आटा चक्की कीमत इस बिज़नेस में जल्दी निकल आती है ,आटा चक्की रेट लिस्ट दो चार कंपनी की देख कर लें ,मिन्नी आता चक्की में कोई फायदा नहीं हैं ,आटा चक्की की रिपेयरिंग की कोई दिक्कत नहीं आती ,आटा चक्की की सेटिंग आप भी कर सकते हो बहुत आसान होती है।
 आटा चक्की के पाट ही बदलने होते हैं वो भी तीन चार साल बाद ,कीमत 
कोई खास नहीं होती । नटराज आटा चक्की वालों से जरूर कन्फर्म करना 
की वो  ट्रेक्टर आटा चक्की बनाते है या नहीं। 
आपका दिन शुभ हो - --धन्यवाद
पसंद आया तो------ , शेयर और फॉलो करें

टिप्पणियां

  1. Bahut Achi Baat hai Sir Ma Kerna ko BHI Tyar hu per bank lone to NAHI dati.

    जवाब देंहटाएं
  2. बहुत अच्छा सुझाव सर में अपने गांव में 1 छोटा सा आटा चक्की मिल लगाना चाहता हूं मुझे परमानेंट अनाज कैसे मिलेगा

    जवाब देंहटाएं

टिप्पणी पोस्ट करें

do not enter any spam link in the comment box